Home

>

Hindi

>

कक्षा 12

>

Biology

>

Chapter

>

जीव एव समष्टियाँ

>

गॉसे (Gause's) के स्पर्धी अपवर...

गॉसे (Gause's) के स्पर्धी अपवर्जन नियम (Competitive Exclusion Principle) को उदाहरण सहित समझाइये।

Video Solution: गॉसे (Gause's) के स्पर्धी अपवर्जन नियम (Competitive Exclusion Principle) को उदाहरण सहित समझाइये।
adfree_icon_web_accordion

Ab Padhai karo bina ads ke

Khareedo DN Pro and dekho sari videos bina kisi ad ki rukaavat ke!

Login if already purchased

Updated On: 27-06-2022

लिखित उत्तर

Solution : गॉसे'स्पर्धी अपवर्जन नियम' यह बतलाता है। कि एक ही तरह के संसाधनों के लिए स्पर्र्धा करने वाली दो निकटतम से संबंधित जातियाँ अनंतकाल तक साथ-साथ नहीं रह सकती और स्पर्धीरूप से घटिया जाति अंततः विलुप्त कर दी जाती है। ऐसा तभी होगा जब संसाधन सीमाकारी होंगे अन्यथा नहीं। अधिक वर्तमान अध्ययन स्पर्धा के ऐसे घोर सामान्यीकरण की पुष्टि नहीं करते। वे प्रकृति में अंतराजातीय स्पर्धा होने को नकारते तो नहीं पर वे इस ओर ध्यान दिलाते हैं स्पर्धा का सामना करने वाली जातियाँ ऐसी क्रियाविधि विकसित कर सकती हैं जो बहिष्कार की बजाय सह -अस्तित्व को बढ़ावा दे। ऐसी एक क्रियाविधि 'संसाधन विभाजन' है। अगर दो जातियाँ एक ही संसाधन के लिए स्पर्धा करती हैं तो उदाहरण के लिए वे आहार के लिए भिन्न समय अथवा भिन्न चारण प्रतिरूप चुनकर स्पर्धा से बच सकती हैं। मैक आर्थर ने दिखाया कि एक ही पेड़ पर रह रही फुदकी (वार्बलर) की पाँच निकटत: संबधित जातियाँ स्पर्धा से बचने में सफल रही और पेड़ की शाखाओं और वितान पर कीट शिकार के लिए तलाशने की अपनी चारण गतिविधियों में व्यावहारिक भिन्नताओं के कारण साथ-साथ रह सकीं।

उत्तर

Step by step video & image solution for गॉसे (Gause's) के स्पर्धी अपवर्जन नियम (Competitive Exclusion Principle) को उदाहरण सहित समझाइये। by Biology experts to help you in doubts & scoring excellent marks in Class 12 exams.

Question Details till 28/01/2023

Questionगॉसे (Gause's) के स्पर्धी अपवर्जन नियम (Competitive Exclusion Principle) को उदाहरण सहित समझाइये।
Chapter Nameजीव एव समष्टियाँ
SubjectBiology (more Questions)
Class12th
Type of AnswerVideo & Image
Question Language
In Video - Hindi
In Text - Hindi
Students Watched6.5 K +
Students Liked88 +
Question Video Duration5m4s

Transcript

एलीफेंट शाहपुरा में प्रश्न दिया हुआ है लेकिन प्रश्न मारा इस प्रकार से है गोडसे के इस भर्ती अपवर्जन नियम इसको बोलते हैं गैस कंपटीशन एक्सक्लूजन प्रिंसिपल को उदाहरण सहित समझाइए तो आई एम स्टेशन के बारे में देख लेते हैं लेकिन गोडसे हमारी जो साइंटिस्ट है उन्होंने अपवर्जन का एक नियम दिया था और उन्होंने कहा था कि जो सीमित संसाधन होते हैं इनके नियम के बारे में हम आपको बता दें पहले सर्वप्रथम इन्होंने एक नियम दिया था उन्होंने कहा था कि सीमित अगर संसाधन होंगे तो उसमें अगर तू प्रजातियां सीमित क्या है संसाधन है और अगर इसमें दो प्रजाति है क्या कर रही हैं इस पर्दा कर रही है क्या कर रही है 2 प्रजातियां स्पर्धा कर रही हैं तो उनकी जोश पैदा होगी वह अनंत काल तक नहीं चल सकती मतलब जो 2 प्रजातियां उनकी क्या है इस पर दाऊजी उनके भी सीमित संसाधनों की यहां पर गए थे वर्ल्ड हमेशा याद रखिए यहां पर संसाधन की बात नहीं कर रहे या फिर सीमित संसाधन की बात हो रही है

ठीक है तो अगर मोहब्बत क्या होगा की दो प्रजातियों के बीच इस बार आओगी तो उनकी रोज पड़ता है पूछो है अनंत काल तक एक साथ नहीं रह सकती कहने का मतलब है कि ज्यादा टाइम तक नहीं चलता इसको जब भी नहीं चल सकती है और फिर इसमें क्या होगा अनंत काल तक नहीं चल सकती तो अब अब इस स्पर्धा के अंतर्गत होता क्या है यहां पर देखें डार्विन का लोभी थोड़ा सा फल बताएं कि आपने क्या कहा था कि हमारी जो जातियां हैं स्ट्रगल होता है और में कंपटीशन होता है जीवन का संघर्ष होता है अब जैसी स्पर्धाओं की तो संघर्ष होगा इसमें क्या होगा जो मारी दुर्बल पर जाती हैं दुर्बल प्रजातियां वह क्या हो जाती हैं वो हमारी हो जाती है ब्लूटूथ दुर्बल प्रजातियां हैं वह क्या बुझायेंगे नष्ट हो जाएंगे विलुप्त हो जाएंगे क्यों क्योंकि स्पर्धा में हमेशा जो प्रबल प्रजातियां होती हैं वह या कर जाती हैं अपना नेचर के साथ या वातावरण के साथ अनुकूलन कर जाती हैं तो दुर्बल प्रजातियां क्या हो जाए

समाप्त हो जाएंगे तो अपवर्जन एक फूल गिर गया था अब वजन जैसा कि नाम से दिखाई दे रहा है घर अपवर्जन का मतलब होता है कि एक ड्राइवर जानिया एक रास्ता खोज लेना अगर आप वजन नियम यह कहता है कि अगर सांस संसाधन सीमित हैं या सीमित संसाधन है उनमें क्या करें कोई दूसरा रास्ता ढूंढ लो हम क्या करें संसाधनों में सामान्य करण करने क्या कर लो संसाधनों में में ट्रांसफर कर लेते इसको संसाधनों में सामान्य करण कर लेगा तो क्या हो जाएगा सामान्य करण कर ले कर ले तो क्या हो जाएगा तो दोनों ही जातियां क्या करेंगे दोनों ही जाती दो प्रजातियां आराम से बात कर सकती हैं जीवित रह सकते हैं जो हमारी दोनों की प्रजातियां हैं वह क्या करेंगे जीवित रहेंगे इसमें किसी भी जाति का विलुप्त होने का या नहीं

होने का खतरा नहीं होगा तो हमारा क्या आप पर जन का नियम है अब देख लेते हैं इसके उदाहरण के बारे में थोड़ा समय तो लेते हैं इसका उदाहरण देख लेते हैं इसका उदाहरण उन्होंने समझाया था कि तू गई जिसमें उदाहरण के लिए इन्होंने जो बच्चे की एक प्रजाति ली थी बच्चे की एक प्रजाति कौन सी थी हमारी खुद की पक्षी क्या है खुद की एक बच्ची है और इसकी जैसी होती हम इसको बोलते हैं बार-बार क्या बोलेंगे वारब्लर यह क्या थी यह जो खुद की है यह क्या है यह बच्ची और इस बच्ची की कम से कम 5 प्रजातियां कितनी 5 प्रजातियां एक ही वृक्ष पर रहती थी वह कैसे रहते थे हम बता देते आपको भी 5 प्रजातियां एक ही ब्रिज पर स्थित है एक ही ब्रिज पर स्थिति और वह कैसे रहती थी देखी इन्होंने आप

अपवर्जन का इन्होंने लो बताया था उन्होंने यह कहा था कि अगर हम अपनी आदतों में सुधार थोड़ा सुधार कर लें जैसे कि भोजन की जो है वेट है खाना अब कोई भी जीव कितने बजे खाना खा रहा है या उसकी क्या नींद है उसको अगर थोड़ा सा डायवर्जन कर ले ऐसे की एक बच्ची ने सुबह खाया एक में शाम को खाया तो इस तरह से उन्होंने क्या किया भोजन वाला एक उदाहरण लेकर जैसे भोजन की उसकी जो आवश्यकता होती है थोड़ा सा दर्शन अपवर्जन हो जाए डायवर्जन हो जाए तो उससे क्या होगा भोजन की आवश्यकता की पूर्ति होती रहेगी और इस तरह से इसमें जो 5 प्रजातियां थी बच्ची की वह भोजन की आवश्यकता को पूरा कर पाए और वह आज भी उस एक ही पेड़ पर बिना स्पर्धा के जीवन व्यतीत कर रही हैं तो यह क्या था इसका एक एग्जांपल था जिसे हमने आपको एक्सप्लेन कर दिया खुद की बच्ची का अब देख लेते हैं हमारा क्या था इसकी जो मैं डेफिनेशन थी नियम साहब वर्जन था वह बता दिया आपको

हमारा आज का प्रश्न आई होप आप समझ गए होंगे थैंक यू