Home

>

Hindi

>

कक्षा 11

>

Chemistry

>

Chapter

>

रिडॉक्स अभिक्रियाएँ (ऑक्सीकरण - अपचयन अभिक्रियाएँ)

>

ऑक्सीकरण संख्या से क्या अभिप्र...

ऑक्सीकरण संख्या से क्या अभिप्राय है ? इसकी गणना करने के लिए प्रयुक्त नियमो का उल्लेख कीजिए । `Na_(2)S,Na_(2)SO_(3),Na_(2)SO_(4),Na_(2)S_(2)O_(3)` तथा `Na_(2)S_(4)O_(6)` में S की ऑक्सीकरण संख्या की गाना कीजिए ।

adfree_icon_web_accordion

Ab Padhai karo bina ads ke

Khareedo DN Pro and dekho sari videos bina kisi ad ki rukaavat ke!

Login if already purchased

उत्तर

Step by step solution by experts to help you in doubt clearance & scoring excellent marks in exams.

Transcript

रेस्टोरेंट्स इन पर एक क्वेश्चन पूछा क्या है क्वेश्चन ऑक्सीकरण संख्या से क्या अभिप्राय है इसकी गणना करने के लिए प्रयुक्त नियमों का उल्लेख कीजिए तथा यहां पर कुछ योगिक दिए गए हैं जिनमें हमें इसकी ऑक्सीकरण संख्या निकाली है इस क्या है यहां पर सल्फर की होगी क्या है एनी टू एनी टू so3 एनी टू एस ओ फोर ne2s ड्यूटी तथा ne2s फॉर सिक्स में सल्फर की ऑक्सीकरण संख्या की गणना कीजिए तो हम यहां पर इस क्वेश्चन में सबसे पहले बात करेंगे ऑक्सीकरण संख्या क्या होती है ठीक है किसी तत्व के एक परमाणु पर स्थित धनिया ऋण आवेश ओं की संख्या को उस तत्व की ऑक्सीकरण संख्या कहते हैं ऑक्सीकरण संख्या क्या होती है किसी यौगिक में किस तत्व पर किसी तत्व के परमाणु पर क्या

धनिया ऋण आवेश उपस्थित होता है कोई भी धर्म या ऋण आवेश में उपस्थित होता उसकी संख्या कुछ तत्वों की ऑक्सीकरण संख्या कहते हैं आपको यहां पर एग्जांपल के द्वारा बता देते हैं जिससे आपको समझ में आ जाए ऐसे क्यों क्योंकि लेते एनईसीएल तोड़ेंगे प्लस और माइनस में टूटेगा इसके ऊपर एक विशेष के ऊपर एक ऋण आवेश है इसकी ऑक्सीकरण संख्या - परिभाषा में यही किसी यौगिक तत्व के एक परमाणु पर स्थित धनिया ऋण आवेश ओं की संख्या को उस तत्वों की ऑक्सीकरण संख्या कहते हैं लिहाजा को क्लियर हो क्या क्या ऑक्सीजन संख्या क्या होती है अब क्या होता है कि इसकी गणना करने के लिए कुछ नियमों का नियम बनाए गए हैं कि कौन-कौन सी योगिक की कितनी ऑक्सीकरण संख्या होगी और जब वह बहू प्रमाणिक में होगा तू कैसी होगी जब

मुक्त अवस्था में होगा तो कैसे हुई तुम्हारी नियम है तुझे नियमों के बारे में जान लेते हैं फिर उसके बाद हम उन नियमों को फॉलो करते हुए उन नियमों का पालन करते हुए इन योगी को ऑक्सीकरण संख्या को ज्ञात करेंगे ठीक है अब बात करते हैं इनके नियम की तो मन के नियमों की बात करें तो पहला नियम क्या है पहले मुक्त वस्था में तत्वों की ऑक्सीकरण संख्या सुननी होती है किस प्रकार मुक्त अवस्था के तत्व कौन से हैं जैसे कि यह फास्फोरस ap4 द्वारा जिसे प्रदर्शित करते हैं सफेद फास्फोरस है तो इसकी ऑक्सीकरण संख्या जीरो है क्योंकि मुक्त अवस्था में इसी तरह सल्फर है जिसे हम रोंबिक सल्फुर कहते हैं और हाइड्रोजन के समस्थानिक होते हैं अगर वह मुक्त अवस्था में पाए जाते हैं तो उनकी ऑक्सीकरण संख्या सुनने होगी हमेशा दूसरे नियम के बाद कर लेते हैं तो दूसरे नियम में क्या कह रहा है क्योंकि में उपस्थित थे

की कुल ऑक्सीकरण संख्या का योग भी रोता है मतलब सुनने होता है किस प्रकार की योगिक है एक्सबीवाई तो एक्स * तक एक ही ऑक्सीकरण संख्या में जब चाहिए एक्स और वाई क्या यहां पर प्रदर्शित कर रहे हैं एक्स और वाई का मतलब है इन के तत्वों की संख्या 11 से लेकर कुछ भी हो सकता है और बी वन से लेकर कुछ भी हो सकता है तो यहां पर एक्स और वाई संख्या का प्रदर्शन कर रहे हैं उन्हें बता रहे हैं ठीक है तो उन संख्याओं का गुणा करेंगे उस तत्वों की ऑक्सीकरण संख्या से जैसे क्या लिखा है xn2 तत्वों की ऑक्सीकरण संख्या प्लस यहां पर प्लस का चिन्ह फिर वही * बी की ऑक्सीकरण संख्या इज इक्वल टू जीरो है जीरो यहां पर इस नियम की बात की गई है क्योंकि का उपस्थित तत्व की कुल ऑक्सीकरण संख्या का योग 0 होता है तब बात करेंगे फिर तीसरे नियम की सानिया मिर्जा करता है तीसरा नियर मे

कोई बहु परमाणु क्यों ठीक है तो उसके आयन में उपस्थित तत्वों की कुल ऑक्सीकरण संख्याओं का योग स्थान पर स्थित आवेश के बराबर होता है मतलब जब अगर कोई योगिक है जिसके ऊपर कोई आया नहीं लगाए तो उसका योग जीरो के बराबर होता है जैसे कि आपने पहले व दूसरे वाले और नियम में देखा इसी प्रकार तीसरा कहां गया अगर कोई यौगिक है उसमें आयन दिया है ऊपर ऑक्सीकरण संख्याओं का योग उस आयन के बराबर होगा मतलब उस पर स्थित आवेश के बराबर होगा यह कहता है हमारा तीसरा नियम चौथा नियम क्या है तथा नियम कह रहा है कि चुप चुप छार धातु होती है जैसे कि अन्य सोडियम पोटेशियम यह सारी धातुएं छार धातु होती है वह प्लस वन ऑक्सीकरण अवस्था प्रदर्शित करती है और क्षारीय मृदा धातु है जो मैग्निशियम कैलशियम यह प्लस टू ऑक्सीकरण अवस्था प्रदर्शित करती हैं ठीक है क्योंकि हमारा चौथा नियम अब उनके दूसरे नियमों पर चलते हैं छोटा नियम नियम पर

क्या कह रहा है कि योगी को में हाइड्रोजन की ऑक्सीकरण संख्या ज्योति प्रसन्न होती है परंतु प्रबंधन में तूती जैसे लिथियम सोडियम इन सब में क्या होती है इसकी हाइड्रोजन की ऑक्सीकरण संख्या -1 तक इसको भी किस प्रकार दिखाते हैं यहां पर कैसे लिखेंगे तो मैंने बोला था यहां पर लिख दिया है जैसे कि यह है योगी को में हाइड्रोजन के ऑक्सीकरण संख्या है वह प्लस 1 होती है ठीक है परंतु जब हाइड्रोजन चाहे किसी प्रबंधन विद्युत धातुओं से मिलते हैं जैसे कैल्शियम सोडियम मैग्निशियम कैलशियम इनके हाइड्राइड्स बनते हैं अभिक्रिया के पश्चात तो उसमें हाइड्रोजन की जो ऑक्सीकरण संख्या होती है वह क्या होती है - 1 होती है ठीक है इसी तरह हम छोटे रूल की बात करें तो छोटी रूम में क्या कह रहा है योगी को में ऑक्सीजन की आक्सीकरण संख्या - 2 टी है मतलब जो सामान योगिक होते हैं उसमें ऑक्सीजन की आक्सीकरण संख्या - तो होती है परंतु पराक्साइड हमें पर ऑक्साइड मतलब

यहां पर लिखते हैं इसका एग्जांपल पर ऑक्साइड का मतलब है इसे एनी टू गो टू hq2 यह सारी पर ऑक्साइड है इसमें ऑक्सीजन की आक्सीकरण संख्या होगी वह -1 होगी और वह तो एक ऐसा योगिक है जिसमें ऑक्सीजन की आक्सीकरण संख्या क्या होगी प्लस 2 होगी यह हमारा छोटा रोल साथ वेरुल की बात करें तो साथ में जून में कह रहे कि 4 इंच ऑक्सीकरण संख्या - 1 होती है जब किसी सामान योगिक में 4 इंच ऑक्सीकरण संख्या 14 महीने से होती है परंतु जब यह हैलोजन सोते हैं क्लोरीन क्लोरीन ब्रोमीन आयोडीन जितने भी हैलोजन सोते हैं जो ऑक्सीजन से जुड़ते हैं ऑक्सीजन छोड़ते हैं तो इनको के तत्वों की ऑक्सीकरण संख्या होती है वह धनात्मक हो जाती हैं कैसी हो जाती है प्लस हो जाती है धनात्मक जैसे कि आप एग्जांपल देख लीजिए चैनल है इसमें से जुड़े

सीरियल जो एक हैलोजन तत्व ऑक्सीजन से जुड़ा हुआ है जिसकी ओके करते क्या हो गई प्लस वन मतलब धनात्मक में इसी तरह बगल वाला एग्जांपल भी यही शो कर रहा है सीरियल की जनसंख्या क्या प्लस 5G हो गई नियम ऑक्सीकरण संख्या की गणना करने के लिए एक नियम और ध्यान रखने वाला कि जब भी आप ऑक्सीकरण संख्या निकाले तो उसको चिन्हित जरूर करें मतलब प्लस और माइनस सिन जरूर लगाएं - 9 प्लस 3 का यहां पर बहुत अलग मतलब होता है अब बात करते हैं हम अपने क्वेश्चन के तीसरे पाठ की तीसरा पार्ट 3 की ऑक्सीकरण की गणना करनी है इनमें ऑक्सीकरण संख्या निकालनी है किसकी सल्फर की पहला योगिक ले लेते एनी टू एनी टू एनी होगी क्या है ne2s क्या करेंगे हमें जिस की ऑक्सीकरण संख्या निकाल

होती है उसको एक समान लेते हैं ठीक है उसको एक्शन लेते हैं यहां पर ऐसे और जेनी की क्या होती है अभी हम रूम में क्या पढ़ाई की छार धातु क्यों फ़िक्र संख्या प्लस 1 होती है हमने रूम में पड़ा था स्कूल में छार धातु होती है जैसे कि सोडियम और पोटेशियम तुझे सोडियम 14 बिछड़ धातु में आता है तुझे ऑक्सीकरण संख्या निकालेंगे तो किस प्रकार समीकरण बनेगा देखिए इसके जो अणुओं की संख्या है उसका मल्टीप्लाई उसका कूड़ा किससे होगा इसकी ऑक्सीकरण संख्या से यहां पर मुखी दे दो घोड़े प्लस का एक ठीक है इसको ब्रैकेट में कर देंगे प्लस जहां पर कुछ है नहीं तो 1 कर दिया * एक्स सल्फर की ऑक्सीकरण संख्या में स्थानीय अब इस पूरे समीकरण को जीरो के बराबर कर देंगे क्योंकि यहां पर कोई आयन तो है नहीं आया होता तो उस

मसलन संख्याओं के योग को उस आएंगे बराबर कर देते तो यहां पर जीरो के बराबर कर दिया अब इस समीकरण को सॉल्व करेंगे तो जाएगा 2 प्लस एक्स इज इक्वल टू जीरो तो यहां से एक्स का मान क्या निकल आएगा - का दो दो सल्फर की ऑक्सीकरण संख्या यहां पर क्या हो गई - कर दो हमने एक्स किसे माना था सल्फर को इस को रिप्लेस कर देंगे तो हो जाएगा - का दो इसका चने लगाना न भूलें क्योंकि अगर नहीं लगाएंगे तो इससे जो ऑक्सीजन संख्या है वह निर्धारित नहीं हो पाएगी और हमारा उत्तर गलत हो जाएगा ठीक है यहां पर हमें प्रथम योगी की सल्फर की ऑक्सीकरण संख्या का पता चल गया हमारे पहले योग व्यक्तिगत संख्या गई -2 मतलब सल्फर की ऑक्सीकरण संख्या कितनी हो गई इस योगिक में -2 हो गई है आप कहते हैं - तुम अब दूसरी होकर की बात कर लेते हैं दूसरों की क्या है क्वेश्चन में देखते हैं दूसरा योगिक है

एनी टू so3h ऑक्सीकरण संख्या निकलते हैं तो दूसरी होगी कि किस प्रकार निकली है उसकी जनसंख्या नीति so3 इसमें क्या किया हमने अनोखी क्या होती प्लस एक सेल्फी में निकाली तो इसको एक्शन लिया और ऑक्सीजन की क्या होती है - 2 पर ऑक्साइड में -1 होती है तथा web2 में फर्स्ट होती है इसे याद रखेगा अब इन जो भी यह जमाने को समीकरणों में लिख दिया और उसको जीरो के बराबर कर दिया तुझे भी समीकरण को हम सॉल्व करेंगे तो एक्स का मान आ रहा है प्लस 4 प्लस 4 क्या हो गया सल्फर की ऑक्सीकरण संख्या छोटी कैसी है प्लस 4th नेटवर्क एकतीस रॉकी की बात करें तो इस रहोगे क्या कह रहा है प्लीज राइट ठीक है देख लेते हैं

एनी टू एस ओ फोर में सल्फर की ऑक्सीकरण संख्या निकालते हैं यहां पर एनी टू एस ओ फोर की निकाली है इसी तरह ऑक्सीकरण संख्या में सल्फर की निकालनी है और इसकी क्या होती है प्लस वन ऑक्सीजन की -2 इसको माना है कि सरकार यह भी निकली जैसे कि ऊपर की दोनों निकाली गई है उसी घन संख्या जिसमें आंसर की आ रहा है प्लस का 6 तो सल्फर के ऑक्सीकरण संख्या क्या है प्लस 6 है अब 34 योगी की बात करें चौथा योगी क्या कह रहा है चौथा योगिक है ne2s 2-3 इसमें में सल्फर की ऑक्सीकरण संख्या निकालनी है तो उसी प्रकार निकालेंगे जिस प्रकार अपने बाकी तीनों की निकाली है इसमें क्या हो गया आने की होती है प्लस पर जिसकी निकाल दी होती है उसकी एक्स मानते हैं तथा ऑक्सीजन किए -2 तो यहां पर समीकरण में लिखते हैं दोगुने प्लस का 1 प्लस 1 * एक्स प्लस 3 घोड़े

इस पूरे को किसके बराबर कर देंगे जीरो के बराबर तभी से चालू करेंगे तो 2 प्लस एक्स प्लस माइनस माइनस कॉस ए = टू एक्स माइनस का 40 यहां पर दो है एक नहीं है अब देख रहे होंगे तू है कि हो जाएगा तू एक्स वीडियो एक्स माइनस 4 एक्स माइनस 4 एक्स 202 एक्स इज इक्वल टू प्लस का 4 हो गया दे जाकर तुझे एक्स का मान निकालेंगे तो जगह चार बटे दो तो यह कट जाएगा तो क्या वह मिलेगा में प्रेस कर दो एक समान यहां पर क्या हो गया एक्स का माना गया प्लस का 2 एक्स क्या है सल्फर सल्फर का मानोगे तो मिलो सल्फर की ऑक्सीकरण संख्या कितनी है प्लस 2 है और यह हमारी हमारा आंसर है इस योगी का योगिक में सरपंच ऑक्सीकरण संख्या हो

गई है प्लस 26 इस तरह पांचवी होगी की बात करते हैं पांच भाइयों की क्या है na2s फॉर सिक्स इसी प्रकार उसको भी याद करेंगे इसमें क्या है प्लस 1 एक्स माइनस टू जब से निकालेंगे योगा दो घोड़े का 1 प्लस 4 * प्लस का 16 * - कर दो इसको s20 प्लस 4 एक्स माइनस का 12 इज इक्वल टू जीरो फ्री हो जाएगा 4 एक्स माइनस कागज गोस टू ज़ीरो चार एक्स इज इक्वल टू एक्स इक्वल टू 10 बटा 4 जाएगा तो पंछी दो दूनी चार पांच

तो यहां पर सल्फर की ऑक्सीकरण संख्या हो जाएगी पांच बटे दो हमारा आंसर यहां पर सल्फर की ऑक्सीकरण संख्या पांच बटे दो तो हमारी सारी होगी को की ऑक्सीकरण संख्या ज्ञात करें उन रूल्स को फॉलो करके तो आशा करती हूं सर आप अच्छे से समझ में आ गया होगा लास्ट वाली होगी कि na2s पुरोहित की ऑक्सीकरण संख्या पांच बटे दो इसी प्रकार बाकी की है 6 प्लस 6 प्लस 4 माइनस तो इसी प्रकार सारी होगी को क्यों टिकट संख्या में निकालिए तो आशा करती हूं सर आपको अच्छे से समझ में आ गया होगा थैंक यू