Getting Image
Please Wait...
Login
Register now for special offers
+91

Home

>

Hindi

>

कक्षा 11

>

Chemistry

>

Chapter

>

रासायनिक आबन्धन एवं आणविक संरचना

>

यद्यपि NH3 तथा H_2O दोनों अणु...

यद्यपि `NH3` तथा `H_2O` दोनों अणुओं की ज्यामिति विकृत चतुष्फलकीय होती है तथापि जल में आबन्ध कोण अमोनिया की अपेक्षा कम होता है। विवेचना कीजिए।

Updated On: 27-06-2022

UPLOAD PHOTO AND GET THE ANSWER NOW!

लिखित उत्तर

Solution : अमोनिया में केन्द्रीय नाइट्रोजन परमाणु पर केवल एक इलेक्ट्रॉन एकाकी युग्म रहता है जबकि `H_(2)O` में केन्द्रीय ऑक्सीजन परमाणु पर इलेक्ट्रॉन के दो एकाकी युग्म होते है । ` H_(2)O` में ऑक्सीजन पर दो एकाकी युग्म की उपस्थिति होने के कारण आबन्ध युग्मो पर अधिक प्रतिकर्षण उत्पन्न होता है जिसके कारण ( एकाकी युग्म - आबन्ध युग्म प्रतिकर्षण `H_(2)O` में `NH_(3)` की अपेक्षा अधिक है ) बंध कोण अधिक संकुचित हो जाता है । इसकी कारण से जल में आबन्ध कोण अमोनिया की अपेक्षा कम होता है । <br> <img src="https://d10lpgp6xz60nq.cloudfront.net/physics_images/NTN_HIN_CHE_XI_P1_C04_E08_008_S01.png" width="80%">

उत्तर

Step by step solution by experts to help you in doubt clearance & scoring excellent marks in exams.

संबंधित वीडियो

Show More
Comments

Add a public comment...